Official website

थाल पूजा का लेकर चले आइये ,

मन्दिरों की बनावट सा घर है मेरा।

आरती बन के गूँजो दिशाओं में तुम

और पावन सा कर दो शहर ये मेरा।

मैं वहीं पर खड़ा तुमको मिल जाऊँगा, 
जिस जगह जाओगे तुम मुझे छोड़ कर। 
अश्क पी लूँगा और ग़म उठा लूँगा मैं, 
सारी यादों को सो जाऊंगा ओढ़ कर ।। 

Exclusive Performances...

Booking info

रेत पर नाम लिखने  से क्या फायदा, 

एक आई लहर  कुछ  बचेगा नहीं।

तुमने पत्थर सा दिल हमको कह तो दिया

पत्थरों पर लिखोगे मिटेगा नहीं।

Want Dr. Vishnu Saxena to let his soul glow at your venue? Click here to contact us.

आओ इक बार फिर से तुम्हें देख लूँ

क्या पता फिर ये दर्पन मिले न मिले ।

पास आ तन की गन्धों को देदो मुझे

क्या पता फिर ये चन्दन मिले न मिले ॥

Songs from the heart

दिल की ज़मीं पर जब फसल यादों की बोओगे।

जिससे  जितना  प्यार  करोगे  उतना रोओगे ॥